आइये जानते हैं पानी में भीगे लैपटॉप को कैसे सुखाएं (घरलू उपचार)

water spilled on laptopनोज जैसवाल: सभी पाठकों को मेरा प्यार भरा नमस्कार। तकनीकी पोस्टों के क्रम में पेश है है 'आइये जानते हैं पानी में भीगे लैपटॉप को कैसे सुखाएं (घरलू उपचार )' एक दिन अचानक पता नहीं कोइ वायर खिंच-विंच गयी और गिलास का पानी सीधा लैपटॉप के कीपैड पर गिर गया। मैंने लैपटॉप को उल्टा करके कीपैड से सारा पानी निकाला और फिर उसे एक कपड़े से पोंछा। फिर टेबल का पानी साफ़ करके करीब आधे घंटे बाद मुझे कोई और साईट चेक करनी थी तो पता चला की कीपैड का एक भी बटन काम नहीं कर रहा था।


मुझे लगा कि लैपटॉप हैंग कर गया है। तो मैंने स्विच ऑफ़ करके दुबारा ऑन किया लेकिन फिर वही समस्या तब जाकर मुझे यह ख्याल आया कि यह पानी गिरने की वजह से हो सकता है। चूँकि लैपटॉप ठीक-ठाक काम कर रहा था और माउस टचपैड भी बढ़िया चल रहा था तो मुझे लगा कि पानी अन्दर नहीं गया और कोइ खास नुकसान नहीं हुआ। लेकिन इस बात पर ध्यान जाते ही सबसे पहले मैंने लैपटॉप का पॉवर कॉर्ड हटाया फिर बैटरी अलग निकाल दी। और लैपटॉप को उल्टा करके थोड़ी देर छोड़ दिया जिससे पानी अगर थोडा बहुत अन्दर बचा हो तो निकल जाए।
फिर मैंने एक घरेलू उपचार लगाया, तब मैने अपना पुराना आज़माया हुआ घरलू उपचार आज़माया, जिसे मैं अपने फोन पर सफलता पूर्वक अपना चुका था।मैंने लैपटॉप के कीपैड पर कुछ सूखे चावल रखे और रात भर के लिए वैसे ही छोड़ दिया। कीपैड की अन्दर की परत या फिर चिप के ऊपर अगर मॉयस्चर हो तो सूखे चावल उसे सोख लेते हैं। सुबह उठकर लैपटॉप ऑन किया तो सारे बटन ठीक काम कर रहे थे। इस तरह कुछ हजार रुपयों का चूना लगने से बच गया।

अगर कभी आपके लैपटॉप पर पानी या कोई और लिक्विड गिर जाए तो लगातार यूज करते रहने की मेरे जैसी बेवकूफी बिलकुल न करें। नीचे लिखे स्टेप्स को फौलो करें:

  1. लैपटॉप को उल्टा करके सारा लिक्विड निकल जाने दें और फिर किसी कपड़े या टिशु पेपर से उसे अच्छी तरह पोंछ लें।
  2. फिर लैपटॉप का पॉवर कॉर्ड और बैटरी निकाल दें,लैपटॉप को पानी से खतरा नहीं होता पानी के कारण होने वाले शार्ट सर्किट से होता है। ये लैपटॉप का पूरा मदरबोर्ड डैमेज कर सकता है इसलिए पॉवर और बैटरी जितनी जल्दी संभव हो हटाएं।
  3. कोई एक्सटर्नल डिवाइस जुड़ा हुआ हो तो उसे भी हटा दें – जैसे पेन ड्राइव, प्रिंटर, स्पीकर वगैरह।
  4. फिर लैपटॉप को उलटा करके कुछ देर छोड़ दें जिससे अगर पानी अन्दर गया हो तो वो बाहर निकल जाए।
  5. पानी निकल जाने के बाद भी अन्दर की चिप भींगी होती हैं और अन्दर मॉयस्चर होता है, जब तक ये मॉयस्चरहै तब तक लैपटॉप को यूज करना खतरनाक हो सकता है। इसको सुखाने के लिए कीपैड पर कुछ सूखे चावल रख दें और उसे रात भर के लिए छोड़ दें। अगर आपको लगता है कि बहुत पानी अन्दर चला गया है तो एक या दो दिन के लिए वैसे ही छोड़ दें। अगर आपके लैपटॉप कीपैड के बटन्स के बीच ज्यादा गैप है और चावल के दानों के अन्दर घुस जाने की संभावना है तो एक पतला टिशु पेपर, कागज़ या कपडा रखके उसके ऊपर चावल रखें।
धैर्य रखें, दुबारा जब आप लैपटॉप ऑन करेंगे तो सब कुछ पहले की तरह ठीक-ठाक काम करेगा।

क्या आपको यह लेख पसंद आया? अगर हां, तो ...इस ब्लॉग के प्रशंसक बनिए !!
इस पोस्ट का शार्ट यूआरएल चाहिए: यहाँ क्लिक करें। Sending request...
Comment With:
OR
The Choice is Yours!

52 कमेंट्स “आइये जानते हैं पानी में भीगे लैपटॉप को कैसे सुखाएं (घरलू उपचार)”पर

  1. अच्छी जानकारी !!

    ReplyDelete
    Replies
    1. पूरण जी, पोस्ट पर टिप्पणी के लिए धन्यवाद।

      Delete
  2. Thanks for sharing this useful information.I had experienced this thing once and the funny thing is that my wife didn't told me that my son had dropped water on my laptop.She told me to start the laptop to know whether it will start or not.After starting the laptop she felt good and told me the truth,I was speechless and was not sure whether to get angry or laugh on her innocence.I immediately shut down the laptop and put it in sunlight for sometime.Luckily no harm was done.
    Happy Blogging.

    ReplyDelete
    Replies
    1. Thanks Your Comments Brother.

      Delete
  3. अत्यंत उपयोगी जानकारी मनोज जी थैंक्स.

    ReplyDelete
    Replies
    1. देवेन्द्र सिंह जी, पोस्ट पर टिप्पणी के लिए धन्यवाद।

      Delete
  4. बहुत सुन्दर प्रस्तुति..
    ---
    हिंदी ब्लॉगर्स चौपाल {साप्ताहिक चर्चामंच} पर आपको सूचित करते हुए हर्ष हो रहा है कि आपकी पोस्ट को हिंदी ब्लॉगर्स चौपाल में शामिल किया गया है और आप की इस प्रविष्टि की चर्चा {रविवार} (01-09-2013) को हम-भी-जिद-के-पक्के-है -- हिंदी ब्लॉगर्स चौपाल चर्चा : अंक-002 पर की जाएगी, ताकि अधिक से अधिक लोग आपकी रचना पढ़ सकें। कृपया पधारें, आपके विचार मेरे लिए "अमोल" होंगें | आपके नकारत्मक व सकारत्मक विचारों का स्वागत किया जायेगा |
    ---
    सादर ....ललित चाहार

    ReplyDelete
    Replies
    1. ललित जी, आपका आभार।

      Delete
  5. Thanks for sharing this useful information.

    ReplyDelete
  6. उपयोगी जानकारी मनोज जी

    ReplyDelete
    Replies
    1. अर्चना अग्रवाल जी, पोस्ट पर टिप्पणी के लिए धन्यवाद।

      Delete
  7. अच्छी जानकारी मनोज जी थैंक्स.

    ReplyDelete
    Replies
    1. pinky joshi जी, पोस्ट पर टिप्पणी के लिए धन्यवाद।

      Delete
  8. Replies
    1. हरीश बिष्ट जी, पोस्ट पर टिप्पणी के लिए धन्यवाद।

      Delete
  9. thanks .nice information

    ReplyDelete
    Replies
    1. Shalini Kaushik जी, पोस्ट पर टिप्पणी के लिए धन्यवाद।

      Delete
  10. very nice article thanks sir

    ReplyDelete
    Replies
    1. Preeti Sexena जी, पोस्ट पर टिप्पणी के लिए धन्यवाद।

      Delete
  11. बहुत ही उपयोगी सलाह

    ReplyDelete
    Replies
    1. प्रवीण पाण्डेय सर, होंसला आफजाई के लिए शुक्रिया।

      Delete
  12. उपयोगी जानकारी

    ReplyDelete
    Replies
    1. Dinesh shukla जी, पोस्ट पर टिप्पणी के लिए धन्यवाद।

      Delete
  13. उपयोगी जानकारी मनोज जी थैंक्स.

    ReplyDelete
    Replies
    1. Ajay Sharma जी, पोस्ट पर टिप्पणी के लिए धन्यवाद।

      Delete
  14. क्‍या बात है मनोज जी आप तो बहुत ही संग्रहणीय जानकारियां प्रदान कर रहे हैं। धन्‍यवाद।

    ReplyDelete
    Replies
    1. विकेश जी, होंसला आफजाई के लिए शुक्रिया।

      Delete
  15. जी हाँ कभी कभी ऐसा अनहोनी हो जाती है,एक बार मेरा चाय से भरा कप ही पलटी हो गया था की वोर्ड पर,पर शुक्र था लैपटॉप के की- बोर्ड पर प्रोटेक्टर लगा हुआ था । बहुत ही बेहतरीन जानकारी जो सबके लिए उपयोगी है।

    ReplyDelete
    Replies
    1. राजेंद्र जी, होंसला आफजाई के लिए शुक्रिया।

      Delete
  16. Replies
    1. अजय सर आपका आभार, समय से उत्तर ना दे पाने एंव बुलेटिन पर ना पहुच पाने का के लिए माफ़ी। ब्लॉग से अलग भी एक असल जीवन है, जो हमें जीना ही पड़ता है।

      Delete
  17. बहुत ही बेहतरीन जानकारी मनोज जी थैंक्स.

    ReplyDelete
    Replies
    1. Rajan mishra जी, पोस्ट पर टिप्पणी के लिए धन्यवाद।

      Delete
  18. अच्छी जानकारी मनोज जी थैंक्स.

    ReplyDelete
    Replies
    1. Chintu Raj जी, पोस्ट पर टिप्पणी के लिए धन्यवाद।

      Delete
  19. बढ़िया जानकारी उपलब्ध कराई आपने सर धन्यवाद ये जानकारी तो सभी को होनी चाहिए और ये मोबाइल के लिए भी ऐसे ही काम करेगा मोबाइल पूरा पानी में डूब गया हो तो

    ReplyDelete
    Replies
    1. जी हाँ सन्नी जी यह मोबाइल पर भी प्रभावी है, पोस्ट पर टिप्पणी के लिए धन्यवाद।

      Delete
  20. ये अत्यंत उपयोगी जानकारी है ... क्योकि ये आम समस्या है ... अक्सर लेपटोप पे पानी गिरता रहता है ....

    ReplyDelete
    Replies
    1. दिगम्बर नासवा जी,पोस्ट पर टिप्पणी के लिए धन्यवाद।

      Delete
  21. बढ़िया जानकारी उपलब्ध कराई आपने सर धन्यवाद

    ReplyDelete
    Replies
    1. Prem Raj जी,पोस्ट पर टिप्पणी के लिए धन्यवाद।

      Delete
  22. उपयोगी जानकारी

    ReplyDelete
    Replies
    1. Shivam Kumar जी,पोस्ट पर टिप्पणी के लिए धन्यवाद।

      Delete
  23. काम की सलाह ..आभार !!

    ReplyDelete
    Replies
    1. सतीश सक्सेना जी,पोस्ट पर टिप्पणी के लिए धन्यवाद।

      Delete
  24. बहुत ही उपयोगी सलाह दी है आप ने लेपटोप पर कम करते समय अक्सर ऐसी कुछ problem आई ही जाती है जीना घरेलु उपचार हो जाये तो अच्छा है... पैसे भी बाख जाते है और समय भी... thanks
    prathamprayaas.blogspot.in-

    ReplyDelete
    Replies
    1. richa shukla जी,पोस्ट पर टिप्पणी के लिए आभार।

      Delete
  25. बहुत उपयोगी जानकारी!

    ReplyDelete
    Replies
    1. Pankaj Kumar जी,पोस्ट पर टिप्पणी के लिए आभार।

      Delete

Widget by:Manojjaiswal
Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...
Online Marketing
Praca poznań w Zarabiaj.pl
 

Blog Directories

क्लिक >>

About The Author

Manoj jaiswal

Man

Behind

This Blog

Manoj jaiswal

is a 56 years old Blogger.He loves to write about Blogging Tips, Designing & Blogger Tutorials,Templates and SEO.

Read More.

ब्लॉगर द्वारा संचालित|Template Style by manojjaiswalpbt | Design by Manoj jaiswal | तकनीक © . All Rights Reserved |