टेक्नोलॉजी में हिंदी के बढते कदम

टेक्नोलॉजी में हिंदी के बढते कदम
नोज जैसवाल : सभी पाठकों को मेरा प्यार भरा नमस्कार। आज की पोस्ट में मैं आप को जानकारी दे रहा हूँ। 'टेक्नोलॉजी में हिंदी के बढते कदम' कुछ दशक पहले तक हिन्दी तकनीक की भाषा नहीं मानी जाती थी। हिन्दीभाषियों को टेक्नोलॉजी के साथ चलने में परेशानी आती थी, लेकिन उसके साथ हिन्दी ने भी कदमताल करना सीख लिया है। कंप्यूटर पर हिन्दी में काम करना अब आसान हो चला है। बहुत से लोग टैबलेट्स और स्मार्टफोन्स पर भी हिन्दी में काम करने लगे हैं- कुछ इन गैजेट्स के भीतर मौजूद सुविधाओं के जरिए, तो कुछ अलग से एप्लीकेशन डाउनलोड करके। अच्छी बात यह है कि जिन गैजेट्स में हिन्दी मौजूद नहीं थी,
उनके निर्माता भी भारत के यूजर्स की तरफ से आने वाली पुरजोर मांग को ज्यादा समय तक अनदेखा करने की स्थिति में नहीं हैं। इसका एक उदाहरण है- ब्लैकबेरी के ताजातरीन ऑपरेटिंग सिस्टम में हिन्दी और कई अन्य भारतीय भाषाओं के प्रति समर्थन शामिल किया जाना। 
पिछले दो महीनों में गैजेट्स के चार बड़े ऑपरेटिंग सिस्टम्स के नये संस्करणों के बीटा या फाइनल वर्जन रिलीज किए गए हैं। संयोगवश, चारों में हिन्दी के लिए समर्थन मौजूद है। ये चार मोबाइल ऑपरेटिंग सिस्टम हैं- आईओएस 7 बीटा 6, एंड्रॉयड 4.3 जेली बीन, ब्लैकबेरी ओएस 10.2 (डेवलपर्स) और विंडोज 8.1। दुनिया में टैबलेट्स और स्मार्टफोन्स के ऑपरेटिंग सिस्टम्स में इन चारों की करीब 99 फीसदी हिस्सेदारी है। इनके चलन में आने के बाद टैबलेट्स और स्मार्टफोन्स में हिन्दी का समर्थन मौजूद न होने संबंधी शिकायत हमेशा के लिए दूर हो जानी चाहिए। 

एंड्रॉयड 4.3 जेली बीन में हिन्दी
गूगल का एंड्रॉयड, गैजेट्स की दुनिया का नंबर वन ऑपरेटिंग सिस्टम बना हुआ है। ताजा संस्करण 4.3 जेली बीन में भाषाओं के मामले में कुछ अहम बदलाव हुए हैं। इसके आने से एंड्रॉयड फोन में हिन्दी का पूर्ण समर्थन (नेटिव सपोर्ट) उपलब्ध हो जाएगा। जिन दूसरी भाषाओं के लिए नेटिव सपोर्ट आया है, वे हैं- अफ्रीकान्स, अरबी, हिब्रू, स्वाहिली, जूलू और एमहैरिक। नेटिव सपोर्ट का मतलब है, बिना किसी बाहरी एप्लीकेशन की मदद के हिन्दी में काम करना संभव हो। इसी साल मार्च में गूगल ने नेटिव सपोर्ट के बिना एंड्रॉयड डिवाइसेज पर हिन्दी में काम करने के लिए एक एप्लीकेशन जारी की थी- गूगल हिन्दी इनपुट। इसे इंस्टाल करने के बाद एंड्रॉयड 2.2 और उससे आगे के संस्करणों में हिन्दी में काम करना संभव हो गया था। यह एक की-बोर्ड एक्सटेंशन है, जो रोमन में टाइप करने पर देवनागरी में इनपुट की सुविधा देता है।

एंड्रॉयड 4.3 जेली बीन में हिन्दी भाषा को सक्रिय करने के लिए ऐसा करें- 
1. Settings>Language And Input पर जाएं।
2.  Language पर टैप करें।
3. भाषाओं की सूची में हिन्दी का चुनाव करने पर फोन का इंटरफेस बदलकर हिन्दी हो जाएगा। अगर फोन के विकल्प हिन्दी में नहीं देखना चाहते, सिर्फ हिन्दी में टाइप करना चाहते हैं तो ऐसा करें-
1. Settings>Language And Input पर जाएं।
2. अब Keyboard and Input Methods पर टैप करें।
3. हिन्दी (देवनागरी) की-बोर्ड चुनें और अपनी सेटिंग्स सेव कर लें। 
गूगल हिन्दी इनपुट एप्लीकेशन ऐसे इस्तेमाल करें-
1. गूगल प्ले स्टोर पर  Google Hindi Input सर्च करें। 
2. दिखाए जाने वाले एप्लीकेशन को डाउनलोड कर इंस्टाल करें।
3. Settings>Language And Input>Keyboard में जाकर Google Hindi Input को सलेक्ट करें।

आईओएस 7 में हिन्दी 
एप्पल के आईओएस ऑपरेटिंग सिस्टम में हिन्दी सक्रिय करना मुश्किल नहीं था। अब सपोर्ट और बेहतर हो गया है। एप्पल के सभी मोबाइल गैजेट्स- आईफोन, आईपैड, आईपॉड आदि में इस ऑपरेटिंग सिस्टम का इस्तेमाल होता है। इसके ताजा संस्करण आईओएस 7 का बीटा 6 वर्जन 15 अगस्त को जारी हुआ था। यहां हिन्दी के प्रति समर्थन सिर्फ डिस्प्ले के स्तर पर ही नहीं है, बल्कि टाइपिंग भी आसान है। इन सभी गैजेट्स पर हिन्दी की-बोर्ड को इस तरह सक्रिय किया जा सकता है-
1. Settings>General>International पर टैप करें।
2. अब थोड़ा नीचे जाकर Keyboards पर टैप करें।
3. Add New Keyboard को टैप करें।
4. खुलने वाली सूची में हिन्दी को चुनें। 
जब भी टाइप करना हो, की-बोर्ड पर नीचे दिखने वाले ग्लोब बटन को दबाएं, आप हिन्दी में टाइप कर सकेंगे। फिर से ग्लोब बटन दबाएं और अब अंग्रेजी में टाइप हो सकेगा।

ब्लैकबेरी ओएस 10.2 में हिन्दी 
ब्लैकबेरी के पारंपरिक संस्करणों में हिन्दी समर्थन की मौजूदगी न होने पर भारत में खासा असंतोष रहा है। आखिरकार उसके नई पीढ़ी के ऑपरेटिंग सिस्टम (जो ब्लैकबेरी 10 से शुरू होता है) में हिन्दी यूनिकोड समर्थन उपलब्ध कराया गया था। हालांकि ब्लैकबेरी ने खुद टेक्स्ट कम्पोज करने की सुविधा मुहैया नहीं कराई थी, हिन्दी समेत आठ भारतीय भाषाओं में सिर्फ पहले से टाइप किया टेक्स्ट पढ़ने की सुविधा दी गई थी। लेकिन दूसरे डेवलपर्स के बनाए एप्लीकेशन्स के जरिए टेक्स्ट इनपुट भी संभव है। अगर आपने नया ब्लैकबेरी खरीदा है तो उसमें यह सुविधा सक्रिय की जा सकेगी। अब ब्लैकबेरी ओएस 10.2 में हिन्दी के साथ-साथ ‘हिंगलिश’ को भी बतौर भाषा जोड़ दिया गया है। शायद उन्हें लगता है कि हिन्दी के साथ-साथ उर्दू भाषी भी हिंग्लिश का इस्तेमाल कर सकते हैं। टाइपिंग के लिए हिंग्लिश टेक्स्ट प्रीडिक्शन सुविधा भी मौजूद है। एक अच्छे एप्लीकेशन की मदद से यहां हिन्दी में टाइप करना संभव है। यह एप्लीकेशन है- मोजो हिन्दी (Mojo Hindi), जिसे ब्लैकबेरी वल्र्ड से फ्री डाउनलोड किया जा सकता है। यह रोमन-देवनागरी पद्धति से काम करता है। चूंकि ब्लैकबेरी 10.2 में आप एक समय पर तीन भाषाओं में काम कर सकते हैं, इसलिए आप हिन्दी, अंग्रेजी और हिंग्लिश को सक्रिय करना चाहें तो ब्लैकबेरी 10.2 में हिन्दी भाषा को सक्रिय करने के लिए यह प्रक्रिया अपनाएं-
1. Settings>Language and Input>Input Languages पर जाएं।
2. यहां Add/Remove Languages पर टैप करें। 
3. अब India (Hindi) का चुनाव करें। मोजो हिन्दी टाइपिंग एप्लीकेशन यहां से डाउनलोड करें- BlackBerry World>Apps> Utilities> Utilities> Mojo Hindi

विंडोज 8.1 फॉर टैबलेट व विंडोज आरटी में हिन्दी
माइक्रोसॉफ्ट के ताजा ऑपरेटिंग सिस्टम विंडोज 8.1 फॉर टैबलेट में हिन्दी को सक्रिय करना उतना ही आसान है, जितना विंडोज कंप्यूटर पर। पहले सर्च बॉक्स में Language लिखें। परिणामों में Region and Language settings पर क्लिक करें। अब खुलने वाले पेज में Add a language पर टैप करें। यहां हिन्दी चुनें। अब आपके सिस्टम में हिन्दी सक्रिय हो गई है। अब हिन्दी का की-बोर्ड चुनने के लिए एक बार फिर से Language पेज पर जाएं और जहां हिन्दी लिखा है, वहां क्लिक कीजिए। अब Options>Add A keyboard क्लिक करके इनस्क्रिप्ट हिन्दी की-बोर्ड या कोई भी और आईएमई,0 जो आपने डाउनलोड किया हो, उसे चुन लीजिए। बस, फटाफट हिन्दी में काम करना शुरू कर दीजिए।  

क्या आपको यह लेख पसंद आया? अगर हां, तो ...इस ब्लॉग के प्रशंसक बनिए !!
इस पोस्ट का शार्ट यूआरएल चाहिए: यहाँ क्लिक करें। Sending request...
Comment With:
OR
The Choice is Yours!

88 कमेंट्स “टेक्नोलॉजी में हिंदी के बढते कदम ”पर

  1. आपकी यह उत्कृष्ट जानकारी कल गुरुवार (10-10-2013) को "ब्लॉग प्रसारण : अंक 142"शक्ति हो तुम
    पर लिंक की गयी है,कृपया पधारे.वहाँ आपका स्वागत है.

    ReplyDelete
    Replies
    1. मेरी रचना को स्थान देने के लिए आपका आभार राजेंद्र जी।

      Delete
  2. बढिया जानकारी दी आपने थैंक्स.

    ReplyDelete
    Replies
    1. Shivam Kumar जी, पोस्ट पर राय के लिए ह्रदय से धन्यवाद।

      Delete
  3. बढिया जानकारी

    ReplyDelete
    Replies
    1. Prem Raj जी, पोस्ट पर राय के लिए ह्रदय से धन्यवाद।

      Delete
  4. बेहतरीन जानकारी भरा आर्टिकल धन्यवाद मनोज जी.

    ReplyDelete
    Replies
    1. राजेश्वर राजभर जी, पोस्ट पर राय के लिए ह्रदय से धन्यवाद।

      Delete
  5. Replies
    1. Sonu Pandit जी, पोस्ट पर राय के लिए ह्रदय से धन्यवाद।

      Delete
  6. बेहतरीन जानकारी भरा आर्टिकल

    ReplyDelete
    Replies
    1. प्रशांत मिश्रा जी, पोस्ट पर राय के लिए ह्रदय से धन्यवाद।

      Delete
  7. बढिया जानकारी दी आपने थैंक्स.

    ReplyDelete
    Replies
    1. Dinesh shukla जी, पोस्ट पर राय के लिए ह्रदय से धन्यवाद।

      Delete
  8. हिन्दी और तकनीक पर बहुत ही अच्छा आलेख। एक आलेख मैं भी लिख रहा हूँ।

    ReplyDelete
    Replies
    1. प्रवीण पाण्डेय सर, आप उन चंद लोगो में शामिल है। जिनसे मैने ब्लॉग लिखने की मानसिक शक्ति हासिल की है। आपके आर्टिकल का इंतज़ार रहेगा। पोस्ट पर राय के लिए ह्रदय से धन्यवाद।

      Delete
  9. हिंदी पर बेहतरीन जानकारी शुकिया मनोज जी.

    ReplyDelete
    Replies
    1. zahir khan जी, पोस्ट पर राय के लिए ह्रदय से धन्यवाद।

      Delete
  10. संग्रहणीय जानकारिया। सुन्‍दर। नवरात्रि की अनेकों शुभकामनाएं सहित।

    ReplyDelete
    Replies
    1. विकेश जी, पोस्ट पर राय के लिए ह्रदय से धन्यवाद।

      Delete
  11. Replies
    1. Vikas sexena जी, पोस्ट पर राय के लिए ह्रदय से धन्यवाद।

      Delete
  12. बेहतरीन जानकारी भरा आर्टिकल धन्यवाद मनोज जी.

    ReplyDelete
    Replies
    1. mohit sexena जी, पोस्ट पर राय के लिए ह्रदय से धन्यवाद।

      Delete
  13. बहुत उपयोगी जानकारी ,मनोज जी . आभार .

    ReplyDelete
    Replies
    1. राजीव जी, पोस्ट पर राय के लिए ह्रदय से धन्यवाद।

      Delete
  14. इस पोस्ट की चर्चा, बृहस्पतिवार, दिनांक :-10/10/2013 को "हिंदी ब्लॉगर्स चौपाल {चर्चामंच}" चर्चा अंक -21 पर.
    आप भी पधारें, सादर ....
    नवरात्रि की शुभकामनाएँ.

    ReplyDelete
    Replies
    1. राजीव जी,निमंत्र्ण के लिए ह्रदय से धन्यवाद। आपको भी नवरात्रि की शुभकामनाएँ।

      Delete
  15. उत्कृष्ट लेख तकनीक व् हिंदी पर बहुत बहुत धन्यवाद

    ReplyDelete
    Replies
    1. अर्चना अग्रवाल जी, पोस्ट पर राय के लिए ह्रदय से धन्यवाद।

      Delete
  16. बहुत उपयोगी जानकारी आभार .

    ReplyDelete
    Replies
    1. हरीश बिष्ट जी, पोस्ट पर राय के लिए ह्रदय से धन्यवाद।

      Delete
  17. Replies
    1. देवेन्द्र सिंह जी, पोस्ट पर राय के लिए ह्रदय से धन्यवाद।

      Delete
  18. बेहतरीन जानकारी भरा आर्टिकल धन्यवाद मनोज जी.

    ReplyDelete
    Replies
    1. Rajan mishra जी, पोस्ट पर राय के लिए ह्रदय से धन्यवाद।

      Delete
  19. Replies
    1. Geeta Sexena जी, पोस्ट पर राय के लिए ह्रदय से धन्यवाद।

      Delete
  20. बहुत उपयोगी जानकारी

    ReplyDelete
    Replies
    1. Rajendar Gupta जी, पोस्ट पर राय के लिए ह्रदय से धन्यवाद।

      Delete
  21. बहुत उपयोगी आर्टिकल धन्यवाद मनोज जी.

    ReplyDelete
    Replies
    1. Sanil Sexena जी, पोस्ट पर राय के लिए ह्रदय से धन्यवाद।

      Delete
  22. Replies
    1. pinky joshi जी, पोस्ट पर राय के लिए ह्रदय से धन्यवाद।

      Delete
  23. हिंदी पर बेहतरीन जानकारी

    ReplyDelete
    Replies
    1. उमेश सक्सेना जी, पोस्ट पर राय के लिए ह्रदय से धन्यवाद।

      Delete
  24. बढिया जानकारी दी आपने थैंक्स.

    ReplyDelete
    Replies
    1. राधिका गर्ग जी, पोस्ट पर राय के लिए ह्रदय से धन्यवाद।

      Delete
  25. उत्कृष्ट जानकारी दी आपने थैंक्स.

    ReplyDelete
    Replies
    1. Chintu Raj जी, पोस्ट पर राय के लिए ह्रदय से धन्यवाद।

      Delete
  26. बहुत सुन्दर प्रस्तुति...!
    --
    आपकी इस प्रविष्टि् की चर्चा आज बृहस्पतिवार (10-10-2013) "दोस्ती" (चर्चा मंचःअंक-1394) में "मयंक का कोना" पर भी है!
    --
    सूचना देने का उद्देश्य है कि यदि किसी रचनाकार की प्रविष्टि का उपयोग किसी पत्रिका में किया जाये तो उसकी सूचना देना व्यवस्थापक का नैतिक कर्तव्य होता है।
    --
    शारदेय नवरात्रों की हार्दिक शुभकामनाओं के साथ।
    सादर...!
    डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

    ReplyDelete
    Replies
    1. मेरी रचना को शामिल करने के लिए आपका आभार। आदरणीय डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक 'जी,शारदेय नवरात्रों की हार्दिक शुभकामनाओं के साथ आपका आभार।

      Delete
  27. हिन्दी और तकनीक पर बहुत ही अच्छा आलेख

    ReplyDelete
    Replies
    1. देवेन्द्र सिंह जी, पोस्ट पर राय के लिए ह्रदय से धन्यवाद।

      Delete
  28. बढिया जानकारी

    ReplyDelete
    Replies
    1. बेबी गुप्ता जी, पोस्ट पर राय के लिए ह्रदय से धन्यवाद।

      Delete
  29. बढिया जानकारी दी आपने थैंक्स.

    ReplyDelete
    Replies
    1. bandanaa sharma जी, पोस्ट पर राय के लिए ह्रदय से धन्यवाद।

      Delete
  30. उत्कृष्ट लेख तकनीक व् हिंदी पर बहुत बहुत धन्यवाद.

    ReplyDelete
    Replies
    1. Shivangi sexena जी, पोस्ट पर राय के लिए ह्रदय से धन्यवाद।

      Delete
  31. सुन्‍दर संग्रहणीय जानकारिया दी आपने थैंक्स.

    ReplyDelete
    Replies
    1. piush pant जी, पोस्ट पर राय के लिए ह्रदय से धन्यवाद।

      Delete
  32. शानदार व् उपयोगी जानकारी आपका धन्यवाद मनोज जी.

    ReplyDelete
    Replies
    1. संजीब शुक्ला जी, पोस्ट पर राय के लिए ह्रदय से धन्यवाद।

      Delete
  33. उम्दा जानकारियो का खजाना है आपका ब्लॉग :)

    ReplyDelete
    Replies
    1. Shivam Kumar जी, पोस्ट पर राय के लिए ह्रदय से धन्यवाद।

      Delete
  34. बेहतरीन जानकारी भरा आर्टिकल धन्यवाद

    ReplyDelete
    Replies
    1. anju gupta जी, पोस्ट पर राय के लिए ह्रदय से धन्यवाद।

      Delete
  35. Replies
    1. अनिल गुप्ता जी, पोस्ट पर राय के लिए ह्रदय से धन्यवाद।

      Delete
  36. बेहतरीन जानकारी भरा आर्टिकल

    ReplyDelete
    Replies
    1. Tarun sexena जी, पोस्ट पर राय के लिए ह्रदय से धन्यवाद।

      Delete
  37. अच्छी जानकारी.
    विंडोज़ फ़ोन 8 में हिंदी का रोमन व देवनागरी दोनों में ही टैक्स्ट प्रेडिक्शन इनपुट है. क्या ऐसा इन दूसरे किसी प्लेटफ़ॉर्म में भी है?

    ReplyDelete
    Replies
    1. जी हाँ आदरणीय सर, पोस्ट में इसी पर विस्तार से जानकारी दी गई है। पोस्ट पर राय के लिए ह्रदय से धन्यवाद।

      Delete
  38. बहुत उपयोगी ओर जानकारी भरी जानकारी ... मैंने तो अपने फोन पे शुरू भी कर दिया हिंदी को ...

    ReplyDelete
    Replies
    1. आपको बधाई सर, पोस्ट पर राय के लिए ह्रदय से धन्यवाद।

      Delete
  39. बहुत ही अच्छा आलेख

    ReplyDelete
    Replies
    1. Rohan Sharma जी, पोस्ट पर राय के लिए ह्रदय से धन्यवाद।

      Delete
  40. शानदार आलेख धन्यवाद मनोज जी

    ReplyDelete
    Replies
    1. सतेन्द्र अवस्थी जी, पोस्ट पर राय के लिए ह्रदय से धन्यवाद।

      Delete
  41. बढिया जानकारी दी आपने धन्यवाद मनोज जी.

    ReplyDelete
    Replies
    1. Niramala Nishank जी, पोस्ट पर राय के लिए ह्रदय से धन्यवाद।

      Delete
  42. बेहतरीन जानकारी भरा आर्टिकल

    ReplyDelete
    Replies
    1. sanjay sharma जी, पोस्ट पर राय के लिए ह्रदय से धन्यवाद।

      Delete
  43. Replies
    1. दीवानी इन्तजार जी, पोस्ट पर राय के लिए ह्रदय से धन्यवाद।

      Delete
  44. बेहतरीन जानकारी दी आपने धन्यवाद मनोज जी.

    ReplyDelete

Widget by:Manojjaiswal
Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...
Online Marketing
Praca poznań w Zarabiaj.pl
 

Blog Directories

क्लिक >>

About The Author

Manoj jaiswal

Man

Behind

This Blog

Manoj jaiswal

is a 56 years old Blogger.He loves to write about Blogging Tips, Designing & Blogger Tutorials,Templates and SEO.

Read More.

ब्लॉगर द्वारा संचालित|Template Style by manojjaiswalpbt | Design by Manoj jaiswal | तकनीक © . All Rights Reserved |