आईये जानते हैं फ्री लैपटॉप टैबलेट ट्रैकिंग सॉफ्टवेयर के बारे में

नोज जैसवाल : सभी पाठकों को मेरा प्यार भरा नमस्कार। मेरी पिछली पोस्ट को अत्याधिक पसंद करने के लिए आप सभी का ह्रदय से आभार,आज मैं आपको कुछ फ्री लैपटॉप टैबलेट ट्रैकिंग सॉफ्टवेयर के बारे में जानकारी दे रहा हूँ उम्मीद है आप इस जानकारी से ज़रुर लाभान्वित होंगे।कोई लैपटॉप या टैबलेट जब खोता है तो अकेले नहीं खोता। साथ में खो जाता है आपका बेशकीमती डाटा और सामग्री, जिसका बैकअप मौजूद होने के आसार कम ही होते हैं। इस चोरी से होने वाला नुकसान लैपटॉप की कीमत तक सीमित नहीं है। इस चोरी की परिणति कई दूसरी चोरियों और धोखाधड़ियों में भी हो सकती है। आज ही नहीं, छह महीने या साल भर बाद भी। ऐसे में, क्या अपने खोए हुए लैपटॉप या टैबलेट तक पहुंचने का कोई रास्ता है? अगर कहें कि यह संभव है और वह भी बिना एक पैसा खर्च किए तो क्या आप विश्वास करेंगे?  
ग्लोबल पोजिशनिंग सिस्टम और जियोलोकेशन के जमाने में किसी भी गैजेट की लोकेशन को ढूंढ़ निकालना असंभव नहीं रहा, बशर्ते उसमें जीपीएस सुविधा मौजूद हो और जरूरी एहतियाती कदम उठाए गए हों। कुछ फ्री सॉफ्टवेयरों और कुछ ऑनलाइन सेवाओं ने खोए लैपटॉप्स तक पहुंचना संभव बना दिया है नीचे मै कुछ फ्री लैपटॉप टैबलेट ट्रैकिंग सॉफ्टवेयर एंव उनके डाउन लोड लिंक के बारे में जानकारी दे रहा हूँ।



ट्रैक माई लैपटॉप

TrackMyLaptop नाम की सेवा खालिस हिन्दुस्तानी है, पूरी तरह फ्री है और एक भारतीय एंटी वायरस कंपनी की तरफ से संचालित है। इसका मकसद ग्राहकों के साथ दूसरे लैपटॉप यूजर्स और पुलिस की मदद करना है। यह वेबसाइट चुराए गए लैपटॉप्स पर नजर रखती है और ग्राहकों तथा पुलिस को चुस्ती से खबर करती है।अगर आपने Quick Heal का एंटी-वायरस खरीदा है तो इस वेबसाइट पर लैपटॉप की जरूरी जानकारी के साथ रजिस्टर कर दीजिए और बेफिक्र हो जाइए। यहां लैपटॉप के मैक एड्रेस का रिकॉर्ड रखा जाता है। लैपटॉप खोने के बाद जब भी यूजर इंटरनेट से कनेक्ट करता है तो यूजर के स्थान की जानकारी रजिस्टर्ड यूजर को भेज दी जाती है।मैक एड्रेस आपके लैपटॉप की पहचान का एक खास संकेत है। यह हर कंप्यूटर, लैपटॉप, टैबलेट आदि में होता है। दुनिया में कोई भी दो मैक एड्रेस एक से नहीं होते। यानी लैपटॉप का अपना, निजी डिजिटल पहचान पत्र। कंप्यूटर में लगे नेटवर्क कार्ड, वायरलैस कार्ड वगैरह के भी मैक एड्रेस होते हैं।जिन लोगों ने Quick Heal एंटी-वायरस नहीं खरीदा, वे भी इस वेबसाइट से फायदा उठा सकते हैं। Quick Heal यूजर्स को लैपटॉप के मैक एड्रेस ढूंढ़ने की मशक्कत नहीं उठाता, क्योंकि यह काम एंटी-वायरस खुद ही कर देता है। लेकिन दूसरे यूजर्स को रजिस्ट्रेशन के समय ये एड्रेस खुद बताना होंगे। वायरलैस और नेटवर्क कार्ड के मैक एड्रेस खास तौर पर अहमियत रखते हैं। यहां लैपटॉप के मैक एड्रेस जान सकते हैं। अगर आप सेकेंड हैंड लैपटॉप खरीद रहे हैं तो बेहतर होगा कि पहले इस वेबसाइट पर मौजूद चोरी किए गए लैपटॉप्स के डाटा में जरूर देख लें। ऐसा न हो कि आप चुराया गया लैपटॉप खरीद रहे हों। यह साइट पुलिस के लिए भी उपयोगी है। वे लैपटॉप के मालिक का पता लगाने में इसका इस्तेमाल कर सकते हैं, बशर्ते मालिक ने यहां रजिस्टर किया हो।

लैपटॉप ट्रैकिंग सॉफ्टवेयर

प्रे (Prey): इस फ्री सॉफ्टवेयर को इन्स्टॉल करने का मतलब है आपके लैपटॉप में आपका छोटा सा एजेंट इन्स्टॉल करना, जो सब कुछ देखता रहता है, लेकिन तब तक सक्रिय नहीं होता जब तक कि उसे अपने मालिक का रिमोट सिग्नल नहीं मिल जाता। लैपटॉप खो जाने पर यह ईमेल या एसएमएस संदेश के जरिए उसकी लोकेशन, हार्डवेयर और नेटवर्क स्टेटस की निगरानी रखता है। सारे सबूत इकट्ठे करने के साथ डेटा डिलीट करने की सुविधा भी देता है।

एडिओना

(Adeona)प्रे की तरह यह भी फ्री, ओपन सोर्स सॉफ्टवेयर है, जो एक बार इन्स्टॉल होने के बाद इंटरनेट पर मौजूद अपने सर्वर पर बीच-बीच में लैपटॉप की लोकेशन का ब्यौरा भेजता रहता है। ये सूचनाएं सर्वर पर एक हफ्ते तक रखी जाती हैं। लैपटॉप खो जाने पर वेबसाइट के जरिए इस सर्वर पर रखा डेटा देखा जा सकता है। जैसे- आखिरी बार आपका लैपटॉप किस जगह पर देखा गया था, वह किस आईपी एड्रेस के जरिए इंटरनेट से कनेक्ट हुआ था।


लैपटॉप कॉप

(Laptop Cop): इसके लिए आपको ढाई हजार से कुछ ज्यादा रुपए खर्च करने होंगे। यह जियोलोकेशन के जरिए लैपटॉप पर नजर रखता है। उसकी फाइलों को डिलीट या रिकवर कर सकता है। गुम हुए लैपटॉप की हर गतिविधि नोट करता रहता है। कीबोर्ड पर टाइप की जाने वाली हर कुंजी को रिकॉर्ड कर भेजता रहता है। जाहिर है, अपराधी के ईमेल एड्रेस आदि की जानकारी आप तक पहुंच जाती है।

क्या आपको यह लेख पसंद आया? अगर हां, तो ...इस ब्लॉग के प्रशंसक बनिए !!
इस पोस्ट का शार्ट यूआरएल चाहिए: यहाँ क्लिक करें। Sending request...
Comment With:
OR
The Choice is Yours!

37 कमेंट्स “आईये जानते हैं फ्री लैपटॉप टैबलेट ट्रैकिंग सॉफ्टवेयर के बारे में”पर

  1. Replies
    1. Sonu Pandit जी,पोस्ट पर कमेन्ट के लिए आभार।

      Delete
  2. अत्यंत उपयोगी जानकारी मनोज जी आभार आपका.

    ReplyDelete
    Replies
    1. हरीश बिष्ट जी,पोस्ट पर कमेन्ट के लिए आभार।

      Delete
  3. Very Good Post Manoj Jee.

    ReplyDelete
    Replies
    1. mohit जी,पोस्ट पर कमेन्ट के लिए आभार।

      Delete
  4. अत्यंत उपयोगी जानकारी मनोज जी आभार आपका.

    ReplyDelete
    Replies
    1. piush pant जी,पोस्ट पर कमेन्ट के लिए आभार।

      Delete
  5. उपयोगी जानकारी मनोज जी आभार

    ReplyDelete
    Replies
    1. Dinesh shukla जी,पोस्ट पर कमेन्ट के लिए आभार।

      Delete
  6. सार्थक जानकारी हेतु .आभार . ''शादी करके फंस गया यार ,...अच्छा खासा था कुंवारा .'' साथ ही जानिए संपत्ति के अधिकार का इतिहास संपत्ति का अधिकार -3महिलाओं के लिए अनोखी शुरुआत आज ही जुड़ेंWOMAN ABOUT MAN

    ReplyDelete
    Replies
    1. Shalini Kaushik जी,पोस्ट पर कमेन्ट के लिए आभार।

      Delete
  7. ज्ञानवर्धक पोस्ट धन्यवाद मनोज जी.

    ReplyDelete
    Replies
    1. देवेन्द्र सिंह जी,पोस्ट पर कमेन्ट के लिए आभार।

      Delete
  8. बहुत अच्छी बात बतायी आपने ज्ञानवर्धक पोस्ट मनोज जी.

    ReplyDelete
    Replies
    1. Shivam Kumar जी,पोस्ट पर कमेन्ट के लिए आभार।

      Delete
  9. बहुत उपयोगी जानकारी मनोज जी धन्यवाद

    ReplyDelete
    Replies
    1. bandanaa sharma जी,पोस्ट पर कमेन्ट के लिए आभार।

      Delete
  10. मनोज जी , आज तो बहुत उपयोगी और लाभदायक जानकारी दी है !!

    ReplyDelete
    Replies
    1. पूरण खण्डेलवाल जी,पोस्ट पर कमेन्ट के लिए आभार।

      Delete
  11. पयोगी जानकारी मनोज जी धन्यवाद

    ReplyDelete
    Replies
    1. अर्चना अग्रवाल जी,पोस्ट पर कमेन्ट के लिए आभार।

      Delete
  12. बहुत अच्छी बात बतायी आपने ज्ञानवर्धक पोस्ट मनोज जी.

    ReplyDelete
    Replies
    1. Chintu Raj जी,पोस्ट पर कमेन्ट के लिए आभार।

      Delete
  13. आज तो बहुत उपयोगी और लाभदायक जानकारी दी है आपने मनोज जी धन्यवाद

    ReplyDelete
  14. Replies
    1. helo dear, my blog : http://jjrithub.blogspot.com/

      Delete
    2. shikha kaushik जी,पोस्ट पर कमेन्ट के लिए आभार।

      Delete
  15. गजब, शानदार, फाडू, मजेदार, जबरदस्त लेख दिया हे आपने ! वेसे भी मेरे पास लेपटोप ही हे इन सॉफ्टवेर से मुझे तो पूरी सुरक्षा मिलेगी ! आपका धन्यवाद !
    मेरे ब्लॉग पर आने के लिए निचे लिंक पर क्लिक करे !

    internet and pc releted tips




    ReplyDelete
    Replies
    1. helo dear, my blog : http://jjrithub.blogspot.com/

      Delete
    2. Hitesh Rathi जी,पोस्ट पर कमेन्ट के लिए आभार।

      Delete
  16. बहुत उपयोगी जानकारी मनोज जी धन्यवाद

    ReplyDelete
    Replies
    1. Lalit Chahar जी,पोस्ट पर कमेन्ट के लिए आभार।

      Delete
  17. बहुत उपयोगी जानकारी मनोज जी धन्यवाद

    my blog : http://jjrithub.blogspot.com/

    ReplyDelete
  18. मनोज जी नमस्‍कार
    यह तो जानकारी बहुत काम की ह वेसे हमारे पास भी और कई विक्‍ल्‍प होते है ट्किग के पर इस सम्‍बंध मे कुछ नही यह उपयोगी पोस्‍त धन्‍यवाद

    ReplyDelete
    Replies
    1. विनोद सैनी जी,पोस्ट पर कमेन्ट के लिए आभार।

      Delete
  19. अत्यंत महत्वपूर्ण जानकारी सरल शब्दों में देने के लिए आभार

    ReplyDelete

Widget by:Manojjaiswal
Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...
Online Marketing
Praca poznań w Zarabiaj.pl
 

Blog Directories

क्लिक >>

About The Author

Manoj jaiswal

Man

Behind

This Blog

Manoj jaiswal

is a 56 years old Blogger.He loves to write about Blogging Tips, Designing & Blogger Tutorials,Templates and SEO.

Read More.

ब्लॉगर द्वारा संचालित|Template Style by manojjaiswalpbt | Design by Manoj jaiswal | तकनीक © . All Rights Reserved |