आइये जानते हैं रैनसमवेयर (Ransomware)नाम के कंप्यूटर वायरस के बारे में

आइये जानते हैं रैनसमवेयर नाम के कंप्यूटर वायरस के बारे में
 नोज जैसवाल : सभी पाठकों को मेरा प्यार भरा नमस्कार। काफी समय पहले जब मैने यह ब्लॉग बनाया और इसका नाम रखा। तब मुझे नहीं मालूम था कि इसी नाम से स्वर्गीय श्री जसपाल भट्टी साहब ने अपना एक सीरियल भी बनाया था। मैं जल्द से जल्द अपने इस ब्लॉग का नाम कोई दूसरा रख लेने का प्रयास करूंगा। जसपाल भट्टी साहब की प्रथम पुण्यतिथि पर स्वर्गीय श्री जसपाल भट्टी साहब को शत शत नमन। आज की पोस्ट में मैं आपको जानकारी दूँगा 'आइये जानते हैं रैनसमवेयर नाम के कंप्यूटर वायरस के बारे में' एक नया कंप्यूटर वायरस सामने आया है, जिसे रैनसमवेयर कहा

जा रहा है। यह एक तरीके का मैलवेयर (गलत मकसद वाला सॉफ्टवेयर) है, जो किसी यूज़र के कंप्यूटर में फाइलों को कोड लैंग्वेज में बदल देता है और उन्हें वापस ठीक करने के लिए पैसे मांगता है। इस वायरस का खतरा भारत में भी बहुत ज्यादा है और यहां लगातार इस वायरस के मामले सामने आ रहे हैं।


इस रैमसमवेयर (फिरौती मांगने के मकसद से बनाया गया सॉफ्टवेयर) को इस तरह से डिजाइन किया गया है कि जब तक एक निश्चित रकम का भुगतान नहीं कर दिया जाता, यूज़र का कंप्यूटर ठप रहता है।

मुंबई के एक सीनियर मैनेजमेंट प्रोफेशनल पर रैनसमवेयर अटैक हुआ। उनके लैपटॉप की स्क्रीन पर एक मेसेज आ रहा था, जिसमें उनका डेटा वापस देने के लिए पैसे मांगे जा रहे थे। आखिरकार उन्होंने पैसे दे दिए क्योंकि यह उनके लिए कुछ हजार रुपयों की बात थी, जबकि लैपटॉप में बहुत जरूरी डेटा था। पैसे देने के बाद उन्हें डेटा मिल गया।' हालांकि बेंगलुरु के एक प्रोफेशनल को पैसे देने के बाद भी डेटा वापस नहीं मिला।


 साइबर सिक्यॉरिटी फर्म सिमैन्टेक की एक रिपोर्ट के मुताबिक भारत दुनिया के उन टॉप 5 देशों में शामिल है, जहां रैनसमवेयर सबसे ज्यादा देखे जा रहे हैं।
 

अगर आप सोशल नेटवर्क पर किसी से जुड़ रहे हैं, तो अच्छे से जांच लीजिए कि वह सही है या नहीं। ऐसे भी मामले सामने आए हैं, जब म्यूजिक या विडियो शेयर करने में मैलवेयर भेज गया हो।

क्विक हील के चीफ टेक्निकल ऑफिसर ने कहा, 'हम पिछले कुछ हफ्तों से हर रोज 500 से ज्यादा इस तरह के मामले देख रहे हैं। इस तरह की रिपोर्ट्स पूरे भारत से आ रही हैं।

क्विक हील ने एक बयान में कहा, 'सितंबर, 2013 की शुरुआत में क्विक हील थ्रेट रिसर्च ऐंड रिस्पॉन्स लैब को ऐसी कई घटनाएं देखने को मिलीं, जहां किसी कंप्यूटर में कोड लैंग्वेज में बदली गई फाइलों को ठीक करने के लिए फिरौती की मांग की गई।

कंपनी ने कहा कि यह वायरस यूकैश, बिटकॉइन या मनीपैक जैसी प्रीपेड कार्ड सेवाओं के जरिए 300 डॉलर (करीब 18,500 रुपए) की फिरौती मांगता है।

इस तरह का वायरस फर्जी फेडेक्स या यूपीएस ट्रैकिंग नोटिफिकेशन के जरिए फैलाया जाता है, जिसमें फाइलें अटैच होती हैं और जैसे ही कोई इन फाइलों को खोलता है, क्रिप्टोलॉकर कंप्यूटर में इंस्टॉल हो जाता है और सभी तरह के डॉक्युमेंट्स पर अपना काम शुरू कर देता है।

क्विक हील ने कहा कि वायरस फोटो और विडियो समेत सभी चीजों को एन्क्रिप्ट (कोड लैंग्वेज में बदलना) कर देता है। जब यूज़र फाइल खोलने की कोशिश करता है, तो उससे फाइलें डिक्रिप्ट (डिकोडिंग) करने के लिए 300 डॉलर में 'प्राइवेट की' खरीदने को कहा जाता है, जिससे फाइलें डिक्रिप्ट की जा सकती हैं।

इस पर काम करने वाले हैकर्स अपने पीछे किसी तरह का सुराग नहीं छोड़ते क्योंकि वे बिटकॉइन्स और मनीपैक जैसे डिजिटल कैश सिस्टम के जरिए पेमेंट लेते हैं।

क्विक हील ने कहा, 'पिछले कुछ दिनों में इस तरह का एक और रैनसमवेयर 'ऐंटि-चाइल्ड पॉर्न स्पैम' नाम से कुछ कंप्यूटर्स में दिखा है। इससे पता चलता है कि रैनसमवेयर का ट्रेंड बढ़ रहा है।


बचने के लिए क्या करें
- अपने सिस्टम में ऑरिजनल ऐंटि-वायरस रखें।
- ऐंटि-वायरस अपडेट रखें।
- अनजान लोगों से आए ईमेल्स (खासकर उसके साथ के अटैचमेंट) को न खोलें।
- कुछ ऐंटि-वायरस ऐसी साइट्स के बारे में आगाह कर देते हैं, जो भरोसेमंद नहीं होती हैं। उन वेबसाइट्स पर न जाएं।
- सोशल साइट्स पर ऐसे लोगों से न जुड़ें, जो भरोसेमंद न हों। खासकर उनकी भेजी फाइलें न खोलें।

क्या आपको यह लेख पसंद आया? अगर हां, तो ...इस ब्लॉग के प्रशंसक बनिए !!
इस पोस्ट का शार्ट यूआरएल चाहिए: यहाँ क्लिक करें। Sending request...
Comment With:
OR
The Choice is Yours!

32 कमेंट्स “आइये जानते हैं रैनसमवेयर (Ransomware)नाम के कंप्यूटर वायरस के बारे में”पर

  1. ब्लॉग बुलेटिन की आज की बुलेटिन सब 'उल्टा-पुल्टा' चल रहा है - ब्लॉग बुलेटिन मे आपकी पोस्ट को भी शामिल किया गया है ... सादर आभार !

    ReplyDelete
  2. अच्छी जानकारी मनोज जी

    ReplyDelete
  3. बड़ा ही खतरनाक है यह तो।

    ReplyDelete
  4. खतरनाक वायरस है यह तो अच्छी जानकारी मनोज जी.

    ReplyDelete
  5. सावधान करती बढ़िया जानकारी सर थैंक्स.

    ReplyDelete
  6. निसंदेह बेहद उपयोगी जानकारी मनोज जी साधुवाद

    ReplyDelete
  7. बड़ा ही खतरनाक वायरस है

    ReplyDelete
  8. बेहद उपयोगी जानकारी मनोज जी थैंक्स.

    ReplyDelete
  9. बहुत उम्दा जानकारी

    ReplyDelete
  10. बहुत उम्दा जानकारी

    ReplyDelete
  11. सावधान करती बढ़िया जानकारी सर थैंक्स.

    ReplyDelete
  12. बहुत ही खतरनाक वायरस है

    ReplyDelete
  13. खतरनाक वायरस अच्छी जानकारी मनोज जी.

    ReplyDelete
  14. सावधान करती बढ़िया जानकारी

    ReplyDelete
  15. निसंदेह बेहद उपयोगी जानकारी मनोज जी साधुवाद

    ReplyDelete
  16. बेहतरीन जानकारी दी है आपने ...
    आभार आपका !

    ReplyDelete
  17. अच्छी जानकारी मनोज जी

    ReplyDelete
  18. सावधान करती बढ़िया जानकारी सर थैंक्स.

    ReplyDelete
  19. खतरनाक वायरस अच्छी जानकारी मनोज जी.

    ReplyDelete
  20. बेहतरीन जानकारी दी है आपने आपका आभार.

    ReplyDelete
  21. साहब आप लोग तो जानकार हैं इसलिए अपने कम्‍प्‍यूटर और उसमें इन्‍स्‍टाल सामग्री को सुरक्षित कर लेंगे पर हम जैसे लोग क्‍या करेंगे, सोच कर डर लगता है। लगता है ऐसे हालातों में ब्‍लॉगिंग करना दूभर हो जाएगा। आपने बहुत अच्‍छी जानकारी दी है।

    ReplyDelete
  22. खतरनाक वायरस अच्छी जानकारी मनोज जी आपका आभार.

    ReplyDelete
  23. उपयोगी जानकारी मनोज जी

    ReplyDelete
  24. बहुत बढ़िया जानकारी मनोज भाई , मैं आपका ब्लॉग बहुत दिन से पढ़ रहा हूँ , ये मेरा दुर्भाग्य है जो टिप्पणी आज की , और आपसे काफी प्रभावित भी हूँ , सर धन्यवाद
    नई पोस्ट -: प्रश्न ? उत्तर भाग - ५
    बीती पोस्ट --: प्रतिभागी - गीतकार के.के.वर्मा " आज़ाद " ---> A tribute to Damini

    ReplyDelete
  25. कल 30/10/2013 को आपकी पोस्ट का लिंक होगा http://nayi-purani-halchal.blogspot.in पर
    धन्यवाद!

    ReplyDelete
  26. बहुत उपयोगी जानकारी...

    ReplyDelete
  27. अच्छी जानकारी मनोज जी आपका आभार.

    ReplyDelete
  28. अच्छी जानकारी

    ReplyDelete
  29. अच्छी जानकारी मनोज जी

    ReplyDelete
  30. अच्छी जानकारी मनोज जी आपका आभार.

    ReplyDelete
  31. उपयोगी जानकारी मनोज जी

    ReplyDelete

Widget by:Manojjaiswal
Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...
Online Marketing
Praca poznań w Zarabiaj.pl
 

Blog Directories

क्लिक >>

About The Author

Manoj jaiswal

Man

Behind

This Blog

Manoj jaiswal

is a 56 years old Blogger.He loves to write about Blogging Tips, Designing & Blogger Tutorials,Templates and SEO.

Read More.

ब्लॉगर द्वारा संचालित|Template Style by manojjaiswalpbt | Design by Manoj jaiswal | तकनीक © . All Rights Reserved |